स्टेमिना कैसे बढ़ाएं

आज इस आधुनिक युग मे समय पर खानपान, योग, एक्सरसाइज और अपनी दैनिकचर्या पर विशेष ध्यान न देने की वजह से अनेक बीमारियां से ग्रषित हो जाता है। आज जब युवा में किसी बीमारी की बात करते है तो आज हर युवा अपनी स्टेमिना क्षमता से परेशान है। आमतौर पर स्टेमिना जैसी बीमारी की समस्या व्यक्ति की शारीरिक एनर्जी कम हो जाती है। जिस कारण वह किसी भी कार्य को करते समय जल्दी थक जाता हैं।

अगर आप भी स्टेमिना जैसी बीमारी से परेशान है और किसी कार्य को करते – करते जल्दी थक जाते है तो आपको परेशान होने की बिल्कुल ज़रूरत नही है। क्योंकि हम आपको अपने इस आर्टिकल में स्टेमिना कैसे बढ़ाएं? इससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे है। जिसे अपनाकर आप स्टेमिना को बढ़ा सकते हैं। तो चलिय शुरू कर सकते है –

स्टेमिना क्या है?

किसी कार्य को करने में शारीरिक और मानसिक रूप से जो क्षमता लगती है उसे स्टेमिना कहाँ जाता है। सरल शब्दों में समझे तो जब हम व्यायाम, एक्सरसाइज करते है या फिर दिमाग स्तर का कोई काम करते है तो उस काम को करने में क्षमता लगाती है उसे स्टेमिना के नाम से जाना जाता हैं।

स्टेमिना कैसे बढ़ाएं?

हर व्यक्ति को कार्य करने की लिए शरीर की स्टेमिना क्षमता मजबूत रहना बहुत जरूरी हैं। लेकिन आपकी स्टेमिना क्षमता कम है, तो आपको परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नही है। नीचे हमने स्टेमिना बढ़ाने के कुछ उपाय बताए हैं। जिसे फॉलो करके आप अपनी स्टेमिना क्षमता को बड़ा सकते है।

योग करें

स्वस्थ्य रहने के लिए मनुष्य को अपने दिन की शुरुआत योग से करने की सलाह दी जाती है। योग करने से सिर्फ एक बीमारी नही बल्कि शरीर मे आने वाली अनेक बिमारियों से छुटकारा मिलता है। वही स्टेमिना की बात करे तो इससे निजात पाने के लिए योग काफ़ी कारागार होता है।

योग करने से आपका शरीर लचीला रहता और में एक नई ऊर्जा उत्पन्न होती है। जिससे स्टेमिना बढ़ती है। स्टेमिना बढ़ाने के लिए सूर्यनमस्कार, त्रिकोणासन, उत्कटासन जैसे योग कर सकते हैं।

एक्सरसाइज करें

एक्सरसाइज शरीर की मासपेशियों की ताकत बढ़ाने के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद होता हैं। एक्सरसाइज करने से शरीर के रक्तचाप में सुधार होता है जिससे शरीर मे नई ऊर्जा बनती है और स्टेमिना बढ़ जाती हैं।

दूध छुहारे का सेवन करे

स्टेमिना बढ़ाने के लिए दूध और छुहारे का सेवन करना काफी फायदेमंद होता हैं। दूध में प्रोटीन और छुहारे में एन्टी-ऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा मौजूद होता है। जो , यौन क्षमता, शारीरिक क्षमता को बढ़ाने का काम करता है।

स्टेमिना बढ़ाने के लिए आप एक गिलास दूध को हल्का गर्म करके उसमे छुहारे के छोटे -छोटे टुकड़े करके दूध में डालकर सुबह और शाम सेवन कर सकते हैं।

भोजन में प्रोटीन शामिल करें

मनुष्य के शारीरिक ऊर्जा के लिए प्रोटीन युक्त भोजन सबसे लाभदायक होता हैं। प्रोटीन युक्त भोजन शरीर मे नई ऊर्जा और मांसपेशियों को मजबूत करता है। जिससे मनुष्य का शरीर बिना थके देर तक काम कर सकता हैं। तो ऐसे में आप स्टेमिना को बनाये रखने या बढ़ाने के लिए प्रोटीन युक्त भोजन जैसे अंडा, पनीर, दाल, मछली आदि को भोजन में जरूर शामिल करेँ।

पानी की कमी दूर करें

शरीर मे पानी की कमी स्टैमिना की कमी का मुख्य कारण हो सकता हैं। इसलिए शरीर मे पानी की कमी न होने दे। आप शरीर मे पानी की कमी को दूर करके स्टेमिना कैसे बढ़ा सकते हैं।

FAQ

स्टेमिना बढ़ाने के लिए क्या खाएं?

अगर आपकी स्टेमिना शक्ति कमजोर है, तो आपको बादाम, केला और हरी पत्तियों का सेवन करें।

स्टेमिना बढ़ाने से क्या होता है?

स्टेमिना बढ़ाने से आपकी शारीरिक क्षमता बढ़ती है। जिससे आप किसी भी काम को करने थकान नही होती हैं।

स्टेमिना कैसे बढ़ाएं?

स्टेमिना बढ़ाने के वैसे कई उपाय है लेकिन ऊपर हमने जो उपाय बताएं उन्हें फॉलो करके यहां काफी कम समय में स्टेमिना बढ़ा सकते हैं

निष्कर्ष

स्टेमिना कैसे बढ़ाएं आज हमने अपने इस आर्टिकल के बारे में आपको बताया हैं। आशा करता हूँ कि स्टेमिना कैसे बढ़ाएं आर्टिकल आपको अच्छा लगा होगा।

नमस्कार दोस्तों, मैं Sandeep Singh, Technical Sandy(टेक्निकल सैंडी) का Technical Author & Founder हूँ। Education की बात करूँ तो मैं एक बी.कॉम Graduate हूँ। मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे। :) #We Technical Sandy Team Support DIGITAL INDIA

Share on:

Leave a Comment