Malaria Disease in Hindi | मलेरिया का कारण, लक्षण और बचाव

पूरी दुनिया मे लगभग सभी जगहों पर मच्छर पाये जाते है जिसकी बजह से कई खतरनाक बीमारी पैदा होती है। जिनमे से एक मलेरिया भी है जो मादा एनोफेलीज मच्छर के काटने से मानव में फैलता है क्योंकि मादा एनोफेलीज की बॉडी पर एक परजीवी पाया जाता है जिसका नाम मलेरिया प्लाज़्मोडियम है जो मलेरिया रोग पैदा करता है। जिसके कारण व्यक्ति को तेज बुखार होता है और अगर मलेरिया का प्रभाव तेजी से व्यक्ति के शरीर पर पड़े तो व्यक्ति कोमा में भी जा सकता है।

इसीलिए हमें मलेरिया होने के कारण, मलेरिया के लक्षण तथा मलेरिया से कैसे बचाव किया जाए इसके बारे में जानकारी होना बेहद जरूरी है। यदि आपको मलेरिया से संबंधित कोई जानकारी नहीं है तो आपको परेशान होने की आवश्यकता नहीं है हम आपको इस आर्टिकल में मलेरिया के कारण, लक्षण और बचाव के बारे में विस्तार से बताएंगे।

मलेरिया रोग क्या है? | What is Malaria Disease in Hindi

मलेरिया एक आम बीमारी है जो मादा मच्छर के द्वारा काटने से फैलता है। इस रोग में रोगी व्यक्ति को बार बार बुखार होने के साथ-साथ सर दर्द तथा सर्दी आदि आम लक्षण देखने को मिलते हैं जिनसे यह अंदाजा लगाना मुश्किल होता है कि व्यक्ति को मलेरिया है अथवा नहीं जिसकी वजह से यह रोग बढ़ता जाता है।

और रोगी की हालत गंभीर होती जाती है यदि सही समय पर मलेरिया रोग से पीड़ित व्यक्ति का इलाज न कराया जाए तो व्यक्ति कोमा में जा सकता है। इसलिए हमें मलेरिया रोग से बचाव तथा इसके लक्षण के बारे में पूरी जानकारी होना बेहद आवश्यक है।

मलेरिया रोग फैलने का कारण

हम आपको पहले भी बता सकते हैं कि यह रोग मादा मच्छर पर मौजूद प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम परजीवी से फैलता है। जो शरीर के पूरे ब्लड में मिलकर कोशिका तथा मस्तिष्क में मौजूद छोटी रक्त वाहिकाओं को ब्लॉक कर देता है। यदि किसी व्यक्ति को मलेरिया है तो उसे सांस लेने में समस्या और शरीर के विभिन्न अंग काम करना बंद कर देते हैं।

तथा शरीर का तापमान बढ़ता रहता है और ठंड लगती है। यदि मलेरिया का शीघ्र तथा सही समय पर उपचार न किया जाए तो इससे पीड़ित व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है।

मलेरिया रोग के लक्षण

जिस तरह शरीर में आम बुखार होता है उसी तरह मलेरिया के शुरुआती लक्षण देखने को मिलते है इन लक्षणों के कारण मलेरिया रोगी को पहचान की जा सकती है। यह लक्षण किस प्रकार है जैसे-

  • ठंड लगना
  • उल्टी होना
  • सिर दर्द
  • बार बार बुखार आना
  • दस्त
  • कमजोरी महसूस होना
  • मांसपेशियों में दर्द होना

मलेरिया से पीड़ित रोगी के अंदर यह आम लक्षण देखने को मिलते हैं जिनसे यह पता लगाना बेहद मुश्किल हो जाता है कि व्यक्ति मलेरिया से पीड़ित है या नहीं जैसे जैसे यह रोग बढ़ता है वैसे-वैसे व्यक्ति के शरीर में अन्य लक्षण भी देखने को मिलते हैं जैसे-

  • सांस लेने में समस्या
  • मस्तिष्क में सूजन
  • लिवर और फेफड़े का असफल होना
  • रक्त शर्करा में कमी
  • एनीमिया की शिकायत

मलेरिया रोग से बचाव के उपाय

यदि आप अपने आप को तथा अपने परिवार को मलेरिया रोग के संक्रमण से बचाना चाहते हैं तो आप नीचे बताए गए उपाय कर सकते हैं यह मलेरिया संक्रमण को रोकने में काफी मददगार होंगे जैसे-

  • मलेरिया रोग मच्छर के काटने से होता है इसीलिए अपने घर के आस-पास सफाई रखें क्योंकि मच्छर गंदगी में पनपते है।
  • रात के समय ज्यादातर घर के अंदर रहे और सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें क्योंकि रात के समय में मच्छर अधिक सक्रिय होते हैं जो आपको मलेरिया रोग फैला सकते हैं।
  • मच्छरों से बचाव के लिए आप Insect repellent permethrin के साथ आने वाली मच्छरदानी का उपयोग कर सकते हैं।
  • घर से बाहर निकलते समय ऐसे कपड़े पहने जो आपके शरीर के ज्यादा से ज्यादा भाग को कवर कर सके जिससे मच्छर आपको ना काट पाए।
  • रात में घर से बाहर निकलते समय deet or picaridin क्रीम का उपयोग करें जो शरीर को मच्छर के अलावा अन्य कीड़ों से बचाती है इसे आप अपने मुंह और आंख को छोड़कर शरीर के हर कोने पर सीधे लगा सकते हैं।
  • किसी भी रोग की रोकथाम के लिए वैक्सीन लगाई जाती है लेकिन अभी तक मलेरिया की कोई भी डैक्सीन नहीं बनाई गई है इसीलिए यदि आप मलेरिया रोग से संक्रमित हैं तो Antimalarial drug का use करे।

FAQ

मलेरिया रोग किस मच्छर के काटने से फैलता है?

मानव शरीर में मलेरिया मादा मच्छर एनोफेलीज के काटने से फैलता है क्योंकि इस मच्छर के अंदर एक परजीवी पाया जाता है जो इस रोग का उत्तरदाई माना जाता है। क्योंकि केवल मादा मच्छर ही मानव शरीर मैं काटती हैं जिससे एक मलेरिया संक्रमित व्यक्ति से दूसरा व्यक्ति संक्रमित हो जाता है।

मलेरिया रोग किस परजीवी से फैलता है?

प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम परजीवी के कारण मानव को मलेरिया रोग फैलता है जिसके बाद यदि इस रोग का सही समय पर इलाज न किया जाए तो गंभीर मामलों में व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है।

मलेरिया रोग को फैलने से कैसे रोके?

मलेरिया रोग मच्छर के काटने से फैलता है और मच्छर सदैव गंदगी में पनपते हैं इसीलिए अपने आसपास गंदगी को जमा ना होने दें तथा बाहर निकलते समय ऐसे कपड़े पहने जिनसे आपका शरीर पूरी तरह से ढका रहे।

निष्कर्ष

एक बार किसी व्यक्ति को मलेरिया रोग हो जाए तो यह रोग कई सालों तक सक्रिय रहता है बहुत से गंभीर मामलों में देखा गया है कि मलेरिया से पीड़ित व्यक्ति या तो कोमा में चला जाता है या फिर उसे अपनी जान गंवानी पड़ती है इसीलिए इसका इलाज बेहद जरूरी है।

आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मलेरिया रोग क्या है? कारण, लक्षण, बचाव के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा होगा। कमेंट में अपने विचार हमारे साथ जरूर शेयर करें।

नमस्कार दोस्तों, मैं Sandeep Singh, Technical Sandy(टेक्निकल सैंडी) का Technical Author & Founder हूँ। Education की बात करूँ तो मैं एक बी.कॉम Graduate हूँ। मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे। :) #We Technical Sandy Team Support DIGITAL INDIA

Share on:

Leave a Comment