बवासीर लक्षण, कारण और घरेलू इलाज

Hemorrhoids home treatment IN Hindi :- आज हम अपने इस आर्टिकल में आपके साथ बवासीर जैसी खतरनाक बीमारी के लक्षण कारण और घरेलू उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं। जो कि उन सभी व्यक्तियों के लिए काफी फायदेमंद होने वाला है। जो बवासीर जैसी पीड़ादायक बीमारी से बचना चाहते हैं और इसका इलाज घर ही करना चाहते हैं।

बवासीर काफी पीड़ादायक बीमारी होती है और वर्तमान समय मे इस पीड़ादायक बीमारी से एक नही बल्कि अनेक व्यक्ति पीड़ित है। अगर आप भी उनमें से एक है तो आपको हमारा आज का यह आर्टिकल अंत तक पढ़ना चाहिए। क्योंकि नीचे हमने जो बवासीर के घरेलू इलाज के उपायों को के बारे में बताया हैं। आप उन्हें फ़ॉलो करके आसानी से घर बैठे इस बीमारी का इलाज कर सकते हैं।

बवासीर क्या है? | What is Piles

बवासीर जिसे piles भी कहाँ जाता हैं। यह एक ऐसी समस्या जो जिसमें शौच करने वाले स्थान पर गुदा के आस – पास वाली नशों का आकार बढ़ जाता हैं और इसी स्थान पर मस्से निकल आते हैं। जो मल त्याग करते समय काफी पीड़ा पैदा करते हैं।

अगर आप भी पाइल्स जैसी समस्या स्व पीड़ित है। तो आपको हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े। यह लेख आपके लिए काफ़ी फायदेमंद साबित होने वाला हैं।

बवासीर के लक्षण | symptoms of piles

बवासीर के सामान्य लक्षण कौन – कौन से हो सकते है। वह निम्नलिखित है –

  • बार – बार मल त्यागने का मन करना लेकिन त्यागने पर मन ना निकलना।
  • शौच के स्थान पर गुदा के आसपास कठोर गांठ जैसी बन जाना।
  • शौच करते समय पीड़ा होना या फिर खून आना।
  • शौच करते समय खुजली लचीलापन आदि का होना।

बवासीर के कारण | Due to hemorrhoids

  • एक जगह पर अधिक समय तक खड़े रहना।
  • कब्ज बवासीर का प्रमुख कारण माना जाता हैं।
  • धूम्रपान और शराब का सेवन अधिक मात्रा में करना।
  • ज्यादा तला और मसालेदार भोजन करना।
  • फाइबर युक्त भोजन का ज्यादा सेवन करना।

बवासीर के घरेलू इलाज | What is home remedies for hemorrhoids

बवासीर का इलाज़ घरेलू नुस्खों को अपनाकर कर सकते हैं। नीचे हमनें बवासीर के घरेलू उपायों के बारे में बताया हैं –

जैतून के तेल का उपयोग करें

जैतून के तेल में anti-inflammatory गुण पाया जाता है। जो बवासीर के इलाज़ के काफ़ी फायदेमंद होती होता हैं। क्योंकि जैतून के तेल में पाया जाने वाला anti-inflammatory गुण बवासीर बीमारी में शौच करने वाले स्थान पर होने वाले सूजन को कम करने में मदद करता है। और बवासीर से राहत देता हैं।

एलोवेरा का इस्तेमाल करें

ऐलोवेरा आयुर्वेद की सबसे विश्वसनीय आयुर्वेदिक दवाई हैं। इसमे हजारों गुण पाए जाते है जो मनुष्य की बीमारियों को जड़ से खत्म करने के लिए लाभदायक होते हैं। अगर बात करें बवासीर की तो ऐलोवेरा में जेल को अगर आप बवासीर गुदा के आस – पास लगभग 10 से 15 दिनों तक नियमित रूप से लगाते हैं। आपको बवासीर से कुछ ही दिनों में राहत मिल जाएंगी।

जीरे का उपयोग करें

जीरे का उपयोग मुख्य रूप से सब्जी में या दाल में तड़का लगाकर सब्जी, दाल में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन अब आपको आश्चर्य होगा कि यह सब्जी में स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ बवासीर कैसी बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए काफी लाभदायक होता है।

जी हाँ अगर आप बवासीर होने पर आप जीरो को पीसकर पानी के साथ हल्का लेप बनाकर मस्से वाली जगह पर 10 से 20 दिनों तक नियमित रूप से लगाते हैं। तो इन्ही दिनों में बवासीर जैसी समस्या से छुटाकरा पाने लगेंगे।

पपीता का प्रयोग करें?

पपीता बवासीर के लिए काफी फायदेमंद होता हैं। क्योंकि पपीता खनिज पदार्थों और विटामिन का मुख्य स्रोत होता हैं।जो बवासीर के इलाज़ के लिए काफ़ी कारागार होता हैं। अगर आप बवासीर जैसी पीड़ादायक बीमारी से ग्रस्त है। तो आप बवासीर के उपचार के लिए सलाद के रूप में पपीता को जरूर शामिल कर लें।

FAQ

क्या बवासीर का इलाज़ घर पर किया जा सकता हैं?

जी हाँ, अगर आप अपनी बेहतर जीवनशैली के साथ – साथ ऊपर बताये गए घरेलू उपायों को अपनाते है तो निश्चित ही आप बवासीर (piles) बीमारी का इलाज घर ही कर सकते हैं।

क्या बवासीर बीमारी होने पर आने वाले हो सकते हैं

जी हाँ, अगर आपको बवासीर जैसी समस्या है तो आपको अन्य कई बीमारियां हो सकती हैं।

बवासीर का पता कैसे चलता हैं?

अगर मल त्याग करते समय लाल रक्त आना या फिर गुदे के आसपास सूजन, गांठ महसूस होना बवासीर के संकेत होते हैं।

बवासीर में क्या परहेज करें?

बवासीर में आइसक्रीम, जंग फूड्स, अधिक तेल मसालेदार भोजन आदि का सेवन करने से परहेज करना चाहिए।

निष्कर्ष

आज हमने अपने इस लेख में पीड़ादायक बीमारी बवासीर लक्षण, कारण और घरेलू इलाज के बारे में विस्तार से जाना हैं। आशा करता हूँ कि आपको दिए गए बवासीर के घरेलू उपायों फायदेमंद साबित हुए होंगे।

बाकी आपको हमारा आज का आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर आपको आर्टिकल में दिए गए घरेलू उपाय फायदेमंद साबित हुए हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

नमस्कार दोस्तों, मैं Sandeep Singh, Technical Sandy(टेक्निकल सैंडी) का Technical Author & Founder हूँ। Education की बात करूँ तो मैं एक बी.कॉम Graduate हूँ। मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे। :) #We Technical Sandy Team Support DIGITAL INDIA

Share on:

Leave a Comment