कैंसर क्या है: कारण, लक्षण उपाय व पूरी जानकारी

आज के इस लेख में हम बात करेंगे दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी के बारे में जो अगर एक बार बढ़ जाए तो उसका निदान संभव नहीं है। जी हां आज के इस लेख में हम बात करेंगे कैंसर के बारे में कि कैंसर क्या है इसके लक्षण क्या है  और वे कौन से कारण है जिससे ये खतरनाक बीमारी किसी को हो जाती है और कैंसर से बचने का उपाय क्या है और इसका इलाज क्या है। हर चीज़ के बारे में डिटेल से जानेंगे तो चलिए शुरू करते हैं।

कैंसर क्या है?

कैंसर एक बहुत ही खतरनाक रोग है जो किसी की जान भी ले सकता है। इसको रोगों का समूह भी कहा जा सकता है। अगर ये बीमारी इंसान के किसी भी शरीर के हिस्से में लग जाए तो ये शरीर में काफी तेज़ी से फैलती भी है। ये बीमारी  तब फैलती है जब हमारे शरीर की कोशिकाएं असाधारण रूप से बढ़ने लगती है और यही कोशिकाएं बढ़कर ट्यूमर जैसी खतरनाक बीमारी का रूप ले लेती है। ट्यूमर शरीर के किसी भी हिस्से में बढ़ी हुई गांठ को कहा जाता है।

कैंसर क्या है पूरी जानकारी

कैंसर एक ऐसी खतरनाक बीमारी है जो शरीर के किसी भी हिस्से या अंग मे मौजूद कोशिकाओं को प्रभावित करने की क्षमता रखती है। इसी कारण से शरीर में प्रभावित कोशिकाएं फैलने लगती है। जिसके कारण ट्यूमर भी बढ़ने लगता है।

कैंसर मे होने वाले ट्यूमर के प्रकार

कैंसर मे होने वाले ट्यूमर दो प्रकार के होते हैं।

1- बिनाइन

2- मालिग्नैट

1- बिनाइन

बिनाइन एक ऐसा ट्यूमर है जो शरीर के किसी भी हिस्से में हो जाए तो दूसरे हिस्से में नहीं फैलता है।

2- मालिग्नैट

मालिग्नैट एक ऐसा ट्यूमर है जो शरीर के किसी भी अंग में अगर हो जाए तो समय के साथ दूसरे अंग मे भी फैलने लगता है।

कैंसर का कारण

कैंसर होने के कई सारे कारण देखने को मिल जाता है तो आइए उन कारणों को एक बार जान लेते हैं-

• कैंसर आमतौर पर डीएनए के बदलाव या उत्परिवर्तन के कारण से होता है। डीएनए को ही कोशिकाओं का दिमाग कहा जाता है। जो उन्हे बढ़ने का निर्देश देता है। जब इन निर्देशों में कहीं कुछ खराबी आ जाए तो कोशिकाएं असाधारण रूप से बढ़ने लगती है तो वहां पर कैंसर के होने का खतरा बढ़ जाता है।

• तंबाकू, गुटखा, पान मसाला, ये सब ऐसे पदार्थ है जो प्रबल रूप से  कैंसर के होने का कारण है। तंबाकू के अलावा सिगरेट, चुइंगम, इत्यादि चीजो का लंबे समय तक सेवन करने से मुंह तथा फेफड़े का कैंसर उत्पन्न होता है।

• लंबे समय से शराब, दारू का सेवन करने से लीवर खराब हो जाता है और ये लीवर कैंसर समेत अन्य कई सारे हिस्सों मे कैंसर होने के खतरे को बढ़ा देते है।

• बहुत ज्यादा मोटापा भी कैंसर के खतरे को बढ़ा देता है। इसके अलावा लंबे समय से पराबैगनी कारणों के समूह में रहने से और बार बार एक्सरे करवाने के कारण रेडिएशन के संपर्क में आने से भी कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

• परिवार में पहले से किसी को कैंसर होना भी इसका खतरा बढ़ा देता है। इसमें अधिकतर breast cancer के मामले सामने आते हैं।

• कुछ प्रकार के हार्मोन भी कैंसर के कारण बन जाते हैं।

• तनाव को भी कैंसर का एक मुख्य जोखिम कारण माना जाता है।

कैंसर के लक्षण

कैंसर शरीर के जिस भी हिस्से व अंग मे होता है उसके लक्षण भी उसी प्रकार होते हैं। इसके अलावा कुछ बड़े लक्षण भी देखे जा सकते हैं। आइए देखते हैं किन किन लक्षणों से ये खतरनाक बीमारी किसी भी शरीर में प्रवेश करती है –

• त्वचा के नीचे गांठ महसूस होना भी कैंसर का एक लक्षण है।

• भूख कम लगना।

• आवाज़ में बदलाव होना।

• मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होना।

• रात को पसीना आना भी कैंसर का एक लक्षण है।

• खाने को निगलने में कठिनाई का सामना करना।

• बार बार बुखार आना।

• शरीर में घाव के भरने कि प्रक्रिया धीमी होना।

• पांचन रोग जैसे दस्त या कब्ज होना।

• त्वचा में जल्दी निशान पड़ जाना।

• अगर किसी को एक महीने तक लगातार खांसी है और सांस लेने में भी समस्या हो रही है तो ये भी कैंसर का ही एक लक्षण है।

• थकान व कमजोरी महसूस करना।

• शरीर का वजन अचानक से कम या ज्यादा होना।

• खाना खाते टाइम मुंह कम खुलना भी इसका एक लक्षण है।

कैंसर का इलाज

यदि कैंसर का पता शुरुआती समय में लग जाए जब ये बीमारी गंभीर ना हुई हो तो इसका इलाज निरंतर करने पर इसे जड़ से मिटाया जा सकता है। कैंसर का इलाज करने के लिए कई सारे उपचार किए जा सकते हैं जैसे कीमोथेरेपी, रेडिएशन थेरेपी, या अन्य सर्जिकल प्रक्रियाएं शामिल है।

कैंसर से बचने का उपाय

कैंसर से बचाव करने के लिए निम्न तरीके कुछ इस प्रकार है-

• धूम्रपान बिल्कुल भी ना करें अगर आप करते भी हैं तो इसे आज ही छोड़ दें ये जानलेवा है और आपको कैंसर की बीमारी तक ले जाने का एक जरिया है।

• शराब ना पिएं।

• धूप के संपर्क में कम से कम आइए अगर आपको जरूरत नहीं है तो धूप में घर से बाहर बिल्कुल ना निकलें।

• फाइबर युक्त आहार का सेवन करें। जिससे कैंसर का खतरा आपसे और आपके परिवार से कोसो दूर रहे।

• बाहर पकाया गया खाना और डिब्बे में बंद खाना बिल्कुल ना खाएं।

• नियमित तौर पर प्रतिदिन व्यायाम करें, मेडिटेशन करें, और अपने वजन को निरंतर सामान्य बनाए रखें।

• नियमित तौर पर अपना बॉडी मास इंडेक्स चेक करते रहें।

• अगर आप ऐसी किसी जगह पर काम कर रहे हैं जहां आपका रेडिएशन के संपर्क में आने का खतरा ज्यादा है तो अधिक सफेटी किट पहन लें तब कार्य करें। कहने का मतलब है कि रेडिएशन के संपर्क में ना आएं।

• नियमित तौर पर शरीर की जांच करवाते रहें ताकि कोई भी बीमारी अगर आप को हो जाए तो उसका पता आपको जल्दी लग जाए।

• अगर आपकी त्वचा पर नील गांठ पड़ने लगी है या शरीर के किसी भी अंग पर घाव है और वो जल्दी नहीं सुख रहा है। तो अपने नजदीकी हॉस्पिटल में जाके डॉक्टर को अवश्य दिखाएं।

FAQ

कैंसर क्यो होता है?

कैंसर होने का मुख्य कारण धूम्रपान, सिगरेट,बीड़ी, तंबाकू, पान सुपारी मसाला आदि का सेवन करने से होता है।

सबके खतरनाक कैंसर कौन सा होता है?

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा फेफड़ों का कैंसर सबसे खतरनाक माना जाता है। क्योंकि राष्ट्रीय तौर पर इसकी कोई इसक्रीनिंग नहीं है।

क्या कैंसर में दर्द होता है?

कैंसर शरीर के किस अंग में है। या फिर किस प्रकार का इंतजार है उसके अनुसार फिर देखती को कैंसर में दर्द की पीड़ा भी हो सकती है।

Conclusion

आज के इस लेख पर हमने जाना कैंसर क्या है और किन कारणों से होता है इसके लक्षण क्या है इसका इलाज किस प्रकार हो सकता है और इससे बचने के उपाय क्या है इन सभी टॉपिक पर डिटेल में बात करी है अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताइए और इसे अपने मित्र व सगे संबंधियों के साथ अवश्य शेयर करें ताकि उनको भी इस खतरनाक बीमारी के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल सके।

नमस्कार दोस्तों, मैं Sandeep Singh, Technical Sandy(टेक्निकल सैंडी) का Technical Author & Founder हूँ। Education की बात करूँ तो मैं एक बी.कॉम Graduate हूँ। मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे। :) #We Technical Sandy Team Support DIGITAL INDIA

Share on:

Leave a Comment