कमर दर्द के लिए योगा

आज के इस लेख में कमर दर्द के लिए योगा के बारे में जानेंगे कि किस प्रकार हम योगा कर के अपने कमर के दर्द को छू मंतर कर सकते हैं। कमर दर्द कभी कभी असहनीय होता है जिसके कारण मनुष्य को बहुत ज्यादा परेशानी सहनी पड़ती है।

कमर दर्द की समस्या आज के समय में आम बात हो गई है। हर उम्र में ये समस्या एक ना एक बार अवश्य होती है। लेकिन इन दर्द को दूर करने के लिए ऐसे बहुत से योगासन है जिनको काम में लिया जा सकता है।

कमर दर्द को भगाने के लिए आसनों को किस प्रकार करना है

इन योगासन को करने से पहले आप एक मैट ले लें। उसके बाद अपने नजदीकी पार्क या आप अपने घर में भी कर सकते हैं। जहां पर आपको वातावरण की ताज़ी हवा मिलती रहे। वहीं पर करिए।

सबसे पहले पल्थीबांध पर बैठ जाएं। कमर को एकदम सीधा रखना है और कंधो को एकदम ढीला छोड़ देना है। इसके अलावा अपने चेहरे पर हल्की सी मुस्कान भी अवश्य रखिए क्यूंकि इससे आपको मन में शांति का अनुभव होगा।

यदि आप इस योगासन को खड़े होकर करना चाहते हैं तो अपने पैरों को एक सीध में रखें।

अपनी रीढ़ की हड्डी को ऊपर की ओर खींचना है

• सबसे पहले पद्मासन में बैठे उसके बाद धीरे धीरे श्वास लेते हुए अपने दोनो हाथो को ऊपर की ओर उठाइए।

• अपने दोनो हाथों की उंगलियों को आपस में इस प्रकार मिलाइए की दोनों अंगूठें आपस में छू सके।

• ऐसी स्थिति में बैठ कर 2 से 3 बार गहरी सांस लें।

अब अपनी कमर को दाई और बाईं ओर मोड़ना है:-

आपकी हथेलियां अभी भी बंधी हुई रहेगी और हथेलियां आकाश की और रहेगी। इसी position से अब हम वापस से दूसरी एक्सरसाइज करेंगे।

• धीरे से सांस छोड़ते हुए धीरे से अपनी दाईं ओर मुड़े। कुछ समय तक इसी अवस्था में रहना है और 2 से 3 बार गहरी लंबी सांस लेना है।

• अब वापस से सांस अंदर लेते हुए अपने नॉर्मल position मे आना है।

• फिर से सांस छोड़ते हुए धीरे से अपनी बाईं ओर मुड़े। इस बार भी  कुछ डर इसी position मे रहिए। और 2 से 3 बार गहरी लंबी सांस लेना है।

• अब वापस से सांस लेते हुए अपने नॉर्मल पोजिशन में आ जाएं।

अपनी कमर को दाईं और बाईं ओर खींचना है

• आपकी हथेलियां पहले की तरह अभी भी सर के ऊपर बनी हुई रहेंगी। अब आपको सांस छोड़ते हुए धीरे से अपनी दाईं ओर झुकना है और उसी पोजिशन मे कुछ देर रहना है और गहरी लंबी सांस लेते रहना है ताकि आपकी एक्सरसाइज अच्छे से संपन्न हो पाए।

•अपनी सांसे अंदर लेते हुए वापस से अपने नॉर्मल पोजीशन में आ जाना है।

•एक बार फिर से सांस छोड़ते हुए धीरे से अपनी बाईं ओर झुकना है और उसी पोजीशन में कुछ देर रहना है और गहरी लंबी सांस लेते रहना है। इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि आपको यह आसन करते समय आगे और पीछे की ओर नहीं झुकना है। इसके अलावा आपके एक हाथ में दूसरे हाथ से ज्यादा खिंचाव नहीं होना चाहिए।

• सांस लेते हुए वापस से अपनी नॉर्मल position मे आ जाना है।

• एक बात का अवश्य ध्यान रखना है इस आसान को करते समय अपनी रीढ़ की हड्डी को एकदम सीधा रखना है। उसके लिए आप अपने पेट की मांसपेशियों को अंदर भी खींच सकते हैं। जिसमे आपके इस योगासन मे कोई भी त्रुटि ना रह जाए।

अब अपनी कमर को आगे और पीछे की ओर खींचना है

• सबसे पहले आपको अपने हाथों को जल्द बना लेना है और सांस को छोड़ते हुए अपने हाथों को आगे की ओर खींचना है।

• इसके बाद आपको एक गहरी लंबी सांस अंदर की ओर लेना है और सांस छोड़ते हुए कमर के निचले हिस्से से अपने शरीर को अपने आगे की ओर ढकेलना है।

• सांस लें और छोड़ते हुए अपने पूरे शरीर को दाईं ओर खींचें। ध्यान रहे दोनों हाथ एक दूसरे के समांतर हो और दोनों हाथों में एक समान खिंचाव होना चाहिए। अगर आपको लगता है कि आप इस आसन को ठीक प्रकार से नहीं कर पा रहे हैं तो आप धीरे से अपनी नॉर्मल पोजीशन में आ जाए।

• सास को धीमे धीमे अंदर लेते हुए वापस नॉर्मल पोजीशन में आ जाएं।

• सांस छोड़ते हुए अपनी बाईं ओर मुड़े और अपने कमर से तक खींचाव पैदा करने की कोशिश करें।

• सांस अंदर की ओर लेते हुए अपने निर्मल position मे वापस आइए और धीरे से अपने हाथो को ऊपर की ओर उठाएं।

• अपनी उंगलियों को खोल दें और अपने आप को पीछे की ओर खींचें।

• सांस अंदर लेते हुए अपने नॉर्मल पोजीशन पर वापस आए और सांस छोड़ते हुए अपने हाथों को धीरे से नीचे की ओर ले आएं।

इन योगासनों के फायदे

• ये आसान आपके शरीर को स्थिर बनाते हैं।

• आपके पेट और पीठ की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है।

• इसके साथ पीठ को आराम भी मिलता है।

• कमर के दर्द मे काफी ज्यादा असरदार व राम बाण योगा है।

• सुबह उठकर करने से मन में शांति मिलती है।

• इन योगासनों को प्रतिदिन करने से फेफड़ों में मजबूती आती है।

FAQ

Conclusion

आज के इस लेख में हमने कमर दर्द के लिए  योगा के बारे में चर्चा करी है जो हमारे कमर दर्द मे राम बाण साबित होते है। रोजाना खुली हवा में भोर मे उठकर आधे घंटे योगा करने से आपके कमर के दर्द मे ही नहीं अपितु आपके फेफड़े व पीठ की मांसपेशियों में भी लाभदायक साबित होगा। हम उम्मीद करते हैं आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा। यदि पसंद आया हो तो इसे अपने मित्रो व सगे संबंधियों के साथ अवश्य शेयर करें। जिसमे उनको भी कमर दर्द के लिए योगा का ज्ञान मिल सके।

कमर दर्द होने का मुख्य कारण?

एक जगह पर बैठना कमर दर्द का मुख्य कारण बन सकता है। इसके अलावा, मांसपेशियों में तनाव संभावित चोट आदि से भी कमर दर्द हो सकता है।

कमर दर्द का रामबाण इलाज क्या है

कमर दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए विशेषज्ञों के अनुसार नौकासन रामबाण इलाज की तरह काम करता है। अगर कमर दर्द से परेशान है तो आपको रोजाना नौकासन जरूर करना चाहिए।

कमर दर्द का घरेलू उपाय क्या है

अगर आप कमर दर्द के लिए घरेलू उपाय सोच रहे हैं तो हर्बल आयल से कमर की मालिश करना आपके लिए सबसे अच्छा उपाय है

नमस्कार दोस्तों, मैं Sandeep Singh, Technical Sandy(टेक्निकल सैंडी) का Technical Author & Founder हूँ। Education की बात करूँ तो मैं एक बी.कॉम Graduate हूँ। मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे। :) #We Technical Sandy Team Support DIGITAL INDIA

Share on:

Leave a Comment